शिकवा

शिकवा

  शिकवा अल्लामा इकबाल की सबसे प्रसिद्ध रचना है जिसमे उन्होंने इस्लाम के स्वर्णयुग को याद करते हुए खुदा से मुसलमानों के हालत के बारे में शिकायत की है शिकवा शिकवा शिकवा – अल्लामा इकबाल Shikwa ( poetry ) Allama Iqbaal शिकवा क्यूँ  जियां-कार  बनू  सूद-फरामोश  रहूँ फिक्र -ए-फर्दा न करू महव-ए-गम-ए-दोश रहूँ नाले बुलबुल … Read more

अल्लामा इक्बाल की शायरी

अल्लामा इकबाल की शायरी

अल्लामा इकबाल | अल्लामा इकबाल की शायरिया| allam iqbaal quotes | इकबाल के शेर | अल्लामा इकबाल की मशहूर शायरी | Allama Iqbaal Shayri In Hindi  अल्लामा इकबाल की शायरी  खुदी को कर बुलंद इतना की हर तकदीर से पहले खुदा बंदे से खुद पूछे बता तेरी रज़ा क्या है  सितारों से जहा और भी … Read more